नीट परीक्षा के नियम (2023) | NEET Exam Rules

जो विद्यार्थी 12वीं पास करने के बाद डॉक्टर बनना चाहते हैं वह नीट परीक्षा के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते होंगे। ताकि वह नीट की परीक्षा दे सके और मेडिकल कॉलेज में अपनी दाखिला करा सके। ऐसे में अगर आप भी भी नीट परीक्षा के नियम के बारे में पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक प्राप्त करना चाहते हैं तो बिल्कुल सही जगह पर है। 

आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से नीट क्या है, नीट की परीक्षा कौन दे सकता है, नीट परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करें और नीट परीक्षा के नियम (Neet Pariksha Ke Niyam) के बारे में अच्छे से बताने वाले हैं। यह सारी जानकारी विस्तार पूर्वक अच्छे से प्राप्त करने के लिए आप हमारे साथ इस आर्टिकल में अंत तक बने रहे। 

नीट परीक्षा क्या है (Neet Exam Kya Hai)

नीट एक ऐसी परीक्षा है जिसके माध्यम से कोई भी विद्यार्थी जो 12वीं पास कर चुका है वह इस परीक्षा को पास कर के मेडिकल कॉलेज में दाखिला करा सकता है। इस परीक्षा को एन टी ए यानी कि नेशनल टेस्ट एजेंसी के द्वारा आयोजित किया जाता है। 


जो बच्चे बायोलॉजी सब्जेक्ट से 12वीं पास किए हैं और आगे मेडिकल कॉलेज में एडमिशन करना चाहते हैं और डॉक्टर बनना चाहते हैं तो वे नीट की परीक्षा पास कर सकते हैं और भारत के बढ़िया से बढ़िया मेडिकल कॉलेज में अपनी दाखिला करा सकते हैं। उसके बाद आप उन मेडिकल कॉलेज के माध्यम से एम बी बी एस, बी ई डी आदि का कोर्स कर सकते हैं और डॉक्टर बन सकते हैं। 

इन्हें भी देखें 👇👇


नीट परीक्षा कितने प्रकार के होते हैं 

नीट की परीक्षा आमतौर पर दो प्रकार की होती है। पहला NEET UG और दूसरा NEET PG. आज हम नीचे नीट के इन दोनों परीक्षाओं के बारे में विस्तार पूर्वक आपको बताते हैं। 

जो विद्यार्थी अंडर ग्रैजुएट के लेबल में होते हैं वह neet-ug की परीक्षा देते हैं और इसे पास कर MBBS और B.ed कोर्स करते हैं जिसके कारण वह आगे चलकर डॉक्टर बन सके। 

जो विद्यार्थी पोस्ट ग्रैजुएट लेवल के होते हैं वह neet-pg की परीक्षा देते हैं। इस परीक्षा को क्लियर करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएट लेवल वाले विद्यार्थियों को MS और MD जैसे कोर्स करने को मिलते हैं। 


नीट परीक्षा के नियम- Neet Exam Niyam

अब अगर आप नीट परीक्षा देना चाहते हैं और किसी बढ़िया मेडिकल कॉलेज में दाखिला कराना चाहते हैं तो नीट परीक्षा के नियम के बारे में आपको पता होना चाहिए। आइए हम आपको नीचे नीट परीक्षा के कुछ महत्वपूर्ण नियमों के बारे में बताते हैं। 


नीट परीक्षा आप जितना बार चाहे उतना बार दे सकते हैं लेकिन आपकी उम्र 17 वर्ष से 25 वर्ष के बीच होनी आवश्यक है। 

नीट परीक्षा में आपको कुल 180 प्रश्नों का उत्तर देना होता है और यह सारे प्रश्न मिलाकर नीट का पेपर 720 अंकों का होता है। 

नीट परीक्षा में फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी से संबंधित क्वेश्चन पूछे जाते हैं जिनका आपको उत्तर देना रहता है। 

अगर आप नीट की परीक्षा देखकर एम्स यूनिवर्सिटी में दाखिला कराना चाहते हैं तो आपका रेंक हजार के अंदर होना आवश्यक है। 

नीट की परीक्षा देने के लिए आप खुद सेंटर का चयन कर सकते हैं कि आप किस शहर में परीक्षा देने जाना चाहते हैं। 

नीट की परीक्षा को एनटीए द्वारा आयोजित किया जाता है और नीट में जो विद्यार्थी परीक्षा देते हैं उन सभी का कॉपी एनटीए विभाग द्वारा ही चेक किया जाता है। 


नीट परीक्षा के लिए उम्र सीमा का नियम

किसी भी चीज के लिए उम्र सीमा तय होती है। नीट परीक्षा के लिए भी उम्र सीमा तय की गई है। जो छात्र नीट की परीक्षा देना चाहते हैं उनकी न्यूनतम उम्र 17 वर्ष होनी चाहिए और अधिकतम उम्र 25 वर्ष होनी चाहिए। 17 से कम उम्र वाले लोगों को और 25 से ज्यादा उम्र वाले लोगों को नीट की परीक्षा देने की अनुमति नहीं होती है। 

कुछ खास वर्ग को सरकार के द्वारा कुछ छूट मिली हुई है। जैसे ओबीसी वर्ग वाले विद्यार्थियों को 28 साल तक परीक्षा देने का उम्र सीमा है और एसटी एससी वालों को 30 साल तक की उम्र सीमा तय की गई है। नियम के अनुसार सभी की उम्र सीमा घट या बढ़ सकती है। 

नीट एग्जाम के लिए योग्यता नियम- Neet Exam Qualification Rules

जो बच्चे 12वीं पास कर चुके हैं और नीट एग्जाम देना चाहते हैं ताकि उन्हें इंडिया की बढ़िया से बढ़िया मेडिकल कॉलेज में दाखिला मिल सके तो उनको फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलोजी से 12वीं की परीक्षा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास करनी होगी। इसके साथ ही 12वीं में उनको 50 परसेंट से ज्यादा नंबर आने चाहिए तभी वह इस एग्जाम को दे पाएंगे। 


इन सब चीजों के साथ-साथ उनके पास कोई एक आइडेंटिटी कार्ड जैसे कि उनका आधार कार्ड आदि होना चाहिए ताकि उनकी पहचान हो सके। जिसके पास यह सारी योग्यता है। वह व्यक्ति नीट की परीक्षा दे सकता है। 

इन्हें भी देखें 👇👇


क्या 12वीं का स्टूडेंट नीट दे सकता है?

जी हां, नीट परीक्षा का यह नियम है कि कोई भी 12वीं का छात्र जिसने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं की कक्षा पास की हो। वह नीट परीक्षा के लिए योग्य माना जाता है। अतः यदि आपने भी 12वीं पास कर ली है तो आप neet की परीक्षा दे सकते हैं।


नीट की परीक्षा देने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

2023 नीट परीक्षा के नियम अनुसार इस परीक्षा में आवेदन करने के लिए न्यूनतम योग्यता 12वीं पास होना आवश्यक है। भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान एवं अंग्रेजी विषय में आपकी 12वीं कक्षा में अवश्य हो तो ही आप नीट परीक्षा दे पाएंगे।

इन्हें भी देखें 👇👇

अंतिम बातें- नीट परीक्षा के नियम

आज हमने आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से नीट परिक्षा के नियम (NEET Parisha Ke Niyam) के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी है। 

इसके साथ-साथ हमने आपको नीट परीक्षा क्या है, नीट परीक्षा कौन दे सकता है, नीट परीक्षा के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए और नीट परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करें के बारे में जानकारी दी है। 

अगर यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा और दी गई सारी जानकारी अच्छे से समझ में आ गई तो आप इसे अपने मित्रों के साथ साथ अपने सोशल मीडिया पर साझा जरूर करें। 

Post a Comment

0 Comments

Youtube Channel Image
Earn Money घर बैठे पैसे कमाएं
Click Here