औरतों को शनि देव की पूजा करनी चाहिए या नहीं- जानिए रहस्य व हकीकत

औरतों को शनि देव की पूजा करनी चाहिए या नहीं- जानिए रहस्य व हकीकत

हिंदू धर्म में विभिन्न देवी देवताओं क पूजन करने का विधान बताया गया है। विभिन्न मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए पर भक्तजन किसी देवता की पूजा कर सकते हैं- यह एक सामान्य बात है। 

लेकिन वही कुछ देवताओं की पूजा के विशेष नियम भी होते हैं जिनकी पूजा करने से पहले हमें उन सभी बातों का बोध अवश्य होना चाहिए। अन्यथा किसी भी प्रकार की भयंकर हानि हो सकती है। हिंदू धर्म में महिलाओं को पूजा करने के लिए कुछ विशेष नियमों का ध्यान रखना होता है। 


इसे भी दबाएँ- करवा चौथ की पूजा कैंसे करें, कथा, पूजाविधि आदि  💚


महिला कहीं हद तक थोड़ा अपवित्र भी मानी जाती है। इसके कारण पूजन में उसको विशेष ध्यान रखना चाहिए। ऐसे ही हिंदू धर्म में शनि देव के विषय में कुछ मान्यताएं प्रचलित है। कहा जाता है कि औरतों को शनिदेव की पूजा नहीं करनी चाहिए। 

वहीं कुछ लोग कहते हैं कि औरतों को शनिदेव की पूजा करने में कोई भी आपत्ति नहीं है। आखिर इसके पीछे क्या विधान है, क्या रहस्य है- इन सबकी चर्चा हम आज करने जा रहे हैं। तो आइये, जानते हैं कि औरतों को शनिदेव की पूजा करनी चाहिए या नहीं?


इसे भी दबाएँ-  हनुमान चालीसा के समझ लो रहस्य, हनुमान चालीसा परिचय, पुस्तक PDF 💚

इसे भी दबाएँ-  आदित्य हृदय स्तोत्र PDF (Aditya Hridaya Stotra PDF💚


शनिदेव की पूजा कौन कर सकता है?

हिंदू धर्म में शनि देव को एक ओर जहां न्याय का देवता कहा जाता है वहीं दूसरी ओर शनि देवता जन्मकुण्डली में भी एक विशेष ग्रह के रूप में समझे जाते हैं। सभी देवताओं में शनि देव एक विशेष कृपा करने वाले देवता हैं। 

शनिदेव को किसी भी प्रकार का अत्याचार, अन्याय बिल्कुल पसंद नहीं है। अतः भगवान शनि देवता की कृपा प्राप्ति के लिए व्यक्ति को अन्याय, अधर्म, अत्याचार, दुराचार आदि से सदैव दूर रहना चाहिए। ऐसे में भगवान शनिदेव प्रसन्न होते हैं। 


इसे भी दबाएँ-  सृष्टि की रचना कैंसे हुई- पढें पुरुष सूक्त PDF💚

इसे भी दबाएँ-  कामसूत्र पुस्तक PDF (Kamasutra Book PDF💚


वैंसे तो भगवान शनि देवता की पूजा कोई भी भक्त कर सकता है लेकिन जब बात आती है- महिलाओं की तो कुछ विशेष नियमों का ध्यान रखना आवश्यक हो जाता है। 

तो आइए, औरतों को शनिदेव की पूजा करनी चाहिए या नहीं और अगर करनी है तो कब, कैंसे और नहीं करनी है तो क्यों नहीं, इसके पीछे क्या क्या कारण हो सकते हैं। इन सब बातों का चैनल से समझ लीजिए।


इसे भी दबाएँ-  रामायण के रचयिता कौन थे? सच्चाई जान लो 💚

इसे भी दबाएँ-  Ram Raksha Stotra PDF (राम रक्षा स्तोत्र चमत्कारिक) 💚


औरतों को शनिदेव की पूजा करनी चाहिए या नहीं

शास्त्र की माने तो औरतों को शनिदेव की पूजा करने का विधान नहीं है। चूंकि शनिदेव न्याय के देवता माने जाते हैं। शनि देवता एक क्रूर ग्रह के रूप में भी जाने जाते हैं। 

अतः शास्त्रों में कहा गया है कि औरतों को शनि देवता की मूर्ति का स्पर्श तो कभी भी नहीं करना चाहिए। यहां तक कि शनि देवता के मंदिर में भी प्रवेश नहीं करना चाहिए। विशेष परिस्थिति में ही शनि देवता का ध्यान आदि कर सकते हैं।


इसे भी दबाएँ-  Satyanarayan Katha PDF (सत्यनारायण कथा PDF) 💚


औरतों को शनिदेवता की पूजा क्यों नहीं करनी चाहिए

शास्त्रों के अनुसार औरतों को शनिदेव की पूजा नहीं करनी चाहिए। यह बात हम सभी जानते हैं लेकिन ऐंसा क्या कारण है- यह जान लेना भी आवश्यक है। शनि देवता की पूजा करने से

  • औरतों के जीवन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

  • किसी भी प्रकार का महान संकट आ सकता है

  • शनि देवता की नकारात्मक उर्जा महिलाओं को सबसे ज्यादा प्रभावित करती हैं।

  • निर्णय सिंधु में औरतों को शनि देवता की पूजा करने का निषेध किया गया है।

  • सालाना 1000 निवेश जरूरी

  • पैसे निकालने का निश्चित समय

मुंबई हाई कोर्ट ने औरतों को शनि देवता की पूजा करने की दी इजाजत

कुछ समय पहले की बात है मुंबई सरकार ने औरतों को शनिदेव की पूजा करने के प्रसंग में मुंबई हाई कोर्ट ने इसकी अनुमति दे दी है। जिस पर कि विभिन्न ज्योतिष आचार्यों ने आक्षेप उठाया और कहा कि हाई कोर्ट के द्वारा किया गया यह कार्य शास्त्र के अनुकूल नहीं है।


इसे भी दबाएँ-  वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का नक्शा कैंसे हो (PDF) 💚


औरतों को शनिदेव की पूजा करने के लिए रावण ने किया है निषेध

रावण ने अपनी संहिता में औरतों को शनिदेव की पूजा करने के लिए और शनि देवता की प्रतिमा का स्पर्श करने के लिए पूर्ण रूप से निषेध किया है। वही हिंदू धर्म ग्रंथों में, निर्णय सिंधु आदि में औरतों को शनिदेव की पूजा के लिए अनुमति नहीं दी जाती है।


इसे भी दबाएँ-  शीघ्र धनप्राप्ति के लिए श्रीसूक्त का पाठ करें- Sri Suktam PDF 💚



Post a Comment

0 Comments