Purusha Suktam | Purusha Suktam PDF | Purusha Suktam PDF Sanskrit | पुरुष सूक्त PDF

Purusha Suktam | Purusha Suktam PDF | Purusha Suktam PDF Sanskrit | पुरुष सूक्त PDF

इस सृष्टि की रचना कैंसे हुई ? मुर्गी पहले आयी या अण्डा 🤔 व्यावहारिक तौर पर भी यह सवाल आपने जरूर सुना होगा। यदि आपको इसका जवाब चाहिए तो पुरुष सूक्त (Purusha Suktam) पढिये। 

पुरुष सूक्त में सृष्टि की रचना के विषय में बहुत रहस्यमयी बातें बतायी गयी हैं। पुरुष सूक्त के अतिरिक्त नासदीय सूक्त में भी सृष्टि रचना का विहंगम दृश्य देखने को मिलता है। 

इसे भी दबाएँ-  कामसूत्र पुस्तक PDF (Kamasutra Book PDF💚


प्रिय मित्राणि,😍 पुरुष सूक्त कंहा मिलेगा, पुरुष सूक्त PDF (Purusha Suktam PDF) कंहा से डाउनलोड करें। पुरुष सूक्त के लाभ क्या हैं- ऐंसे तमाम सवालों के उत्तर आपको आज यंहा मिलने वाले हैं। 

आज हम आपको Purusha Suktam PDF प्रदान करने जा रहे हैं। साथ ही पुरुष सूक्त के बारें में रहस्यमयी बातें भी बताने वाले है। तो आइये, अनोखा ज्ञान पाइये।


Purusha Suktam PDF के बारे में


Purusha Suktam PDF


पुस्तक/ PDF का नाम-



पुरुष सूक्त (Purusha Suktam)


पुस्तक PDF प्रकार-

वैदिक सूक्त

भाषा- 

संस्कृत- हिंदी आदि।

फाइल प्रकार-

PDF



Purusha Suktam PDF Download

यदि आप पुरुष सूक्त PDF डाउनलोड करना चाहते हैं तो इस पेज में पुरुष सूक्त पीडीएफ डाउनलोड लिंक दिया गया है। Purusha Suktam PDF Sanskrit, Purusha Suktam PDF English आदि विभिन्न भाषाओं में अनुवाद सहित पुरुष सूक्त PDF लिंक नीचे दिए गये हैं।

पुरुष सूक्त PDF डाउनलोड करने से पहले पुरुष सूक्त के बारें में कुछ रहस्यमयी बातें जान लीजिए।

इसे भी दबाएँ-  मरने के बाद क्या होता है 🤔 गरुड़ पुराण💚


पुरुष सूक्त परिचय - Purusha Suktam 

पुरुष सूक्त ऋग्वेद से लिया गया है। ऋग्वेद के दशम मण्डल का 90 नम्बर का सूक्त पुरुष सूक्त के रूप में जाना जाता है। ऋग्वेदीय- पुरुष सूक्त १० ९० अर्थात् दशम मण्डल के ९० वें सूक्त के रूप से लोक व शास्त्र में सर्वत्र प्रसिद्ध है। 

ऋग्वेदीय पुरुष सूक्त के ऋषि- नारायण हैं। इसके देवता पुरुष रूप में हैं। पुरुष सूक्त में कुल 16 मंत्र हैं। अन्तिम मंत्र को छोडकर सभी मंत्र अनुष्टुप छंद में हैं। अन्तिम मंत्र त्रिष्टुप छंद में है। पुरुष सूक्त का पहला मंत्र निम्न है।

सहस्त्रशीर्षा पुरुषः सहस्त्राक्षः सहस्त्रपात् सभूमिः सर्वतस्पृत्वात्यतिष्ठ दशाङ्गुलम्।

अर्थात् वह परम पुरुष हजारों सिर वाला है। उसके हजार आँखे व हजार पैर है। ऐंसा वह परम पुरुष (ईश्वर) चारों ओर से इस जगत् को अधिष्ठित किया हुआ है।

इस प्रकार पुरुष सूक्त में संपूर्ण सृष्टि की रचना के विषय में बहुत ही रहस्यमयी बातें लिखी हैं। ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति कैंसे हुई, जगत् की उत्पत्ति, ब्राह्मण आदि वर्णों की उत्पत्ति जैंसे बहुत सारे रहस्यात्मक विषय पुरुष सूक्त में बताए गये हैं।


पुरुष सूक्त के विषय में ध्यातव्य यह है कि ऋग्वेद के अतिरिक्त पुरुष सूक्त यजुर्वेद में भी मिलता है। चूंकि सबसे प्राचीन ऋग्वेद ही है। 

अतः यजुर्वेद का पुरुष सूक्त ऋग्वेद के समान ही है या यूं कहें कि ऋग्वेद से ही लिया गया है। कुछ दो चार शब्द नये जोड़ दिर गये। 


पुरुष सूक्त यजुर्वेद- Purusha Suktam

यजुर्वेद पुरुष शुक्त यजुर्वेद के 31 वें अध्याय में है। यजुर्वेद का 31 वां अध्याय पुरुष सूक्त के नाम से लोक में अति प्रसिद्ध है। यजुर्वेद पुरुष पुरुष सूक्त भी ऋग्वेद के समान ही है। केवल कतिपय दो तीन शब्द नये जोड़े गये हैं। 

पुरुष सूक्त आध्यात्मिक एवं कर्मकांड पूजा की दृष्टि से भी अत्यन्त महत्वपूर्ण है। पूजा करने वाला हर एक ब्राह्मण पुरुष सूक्त के मंत्रों का उच्चारण करता है। 

पुरुष सूक्त का नित्य पाठ करने से भी अद्भुत लाभ मिलते हैं। आइये, थोड़ा पुरुष सूक्त के लाभ भी जान लीजिए। Purusha Suktam PDF का लिंक नीचे दिया गया है।

इसे भी दबाएँ-  आदित्य हृदय स्तोत्र PDF (Aditya Hridaya Stotra PDF💚


पुरुष सूक्त लाभ जप

पुरुष सूक्त के नित्य पाठ करने से बहुत सारे लाभ होते हैं। इसका महत्व आप रुद्राभिषेक, नारायण पूजा आदि में देख सकते हैं। पुरुष सूक्त के नित्य पाठ से कुछ विशेष लाभ

  • पुरुष सूक्त के पाठ से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है।
  • पुरुष सूक्त पाठ से नवग्रह शान्ति हो जाती है।
  • सभी प्रकार के पापों को दूर करने में पुरुष सूक्त का पाठ करना बहुत लाभदायक है।
  • पुरुष सूक्त के पाठ से समस्त यज्ञ फलों की प्राप्ति होती है।


मित्रों, इस प्रकार आपने देखा कि पुरुष सूक्त पूजन व अध्यात्म की दृष्टि से भी बहुत महत्वपूर्ण है। पुरुष सूक्त एक दार्शनिक सूक्त है। 

विभिन्न संस्कृत प्रतियोगी परीक्षाओं - UGC NET Sanskrit, UPSC Sanskrit आदि में पुरुष सूक्त से बहुत प्रश्न पूछे जाते हैं। Purusha Sukta UPSC परीक्षा में भी पूछा गया है। तो आइये, पुरुष सूक्त PDF डाउनलोड कर लीजिए।

इसे भी दबाएँ-  सिद्ध कुंजिका स्तोत्र PDF💚


Purusha Suktam PDF Download Link

प्रियमित्राणि, आइये‌। यदि आप पुरुष सूक्त PDF डाउनलोड करना चाहते हैं तो नीचे पुरुष सूक्त पीडीएफ लिंक दिए गये हैं। यंहा पुरुष सूक्त के विभिन्न डाउनलोड लिंक प्रदान किए गये हैं। 

जैंसे Purusha Suktam PDF Sanskrit, Purusha Suktam PDF Telugu, पुरुष सूक्त व्याख्या सहित, पुरुष सूक्त का अर्थ (हिंदी अनुवाद) सहित विभिन्न पीडीएफ का लिंक नीचे दिया गया है।

Purusha Suktam PDF In Sanskrit & Hindi 

Purusha Suktam PDF

Purusha Suktam PDF Sanskrit

Purusha Suktam PDF With Meaning (Hindi)

Purusha Suktam PDF Hindi

Purusha Suktam PDF Download


Purusha Suktam PDF In English

Purusha Suktam PDF English

Purusha Suktam PDF With Meaning English


Purusha Suktam PDF 

Purusha Suktam PDF Gita Press

Purusha Suktam PDF Kannada


पुरुष सूक्त पर आधारित कुछ विशेष प्रश्नोत्तरी

आइये, पुरुष सूक्त पर आधारित कुछ दो चार प्रश्न भी देख लीजिए जो कि आपके ज्ञान में चार चाँद लगाएंगे।

प्रश्न- पुरुष सूक्त किस वेद में है?

उत्तर- पुरुष सूक्त ऋग्वेद तथा यजुर्वेद दोनों में मिलता है।


प्रश्न- पुरुष सूक्त के ऋषि कौन है?

उत्तर- पुरुष सूक्त के ऋषि- नारायण माने जाते हैं।


प्रश्न- पुरुष सूक्त संबंधित है?

उत्तर- पुरुष सूक्त ऋग्वेद तथा यजुर्वेद दोनों से संबंधित है।


प्रश्न- पुरुष सूक्त के अनुसार विराट पुरुष की उत्पत्ति कैंसे हुई?

उत्तर- विराट पुरुष की उत्पत्ति आदि पुरुष से हुई। अर्थात् परम पुरुष परमात्मा परब्रह्म है उसी से विराट पुरुष पैदा हुआ। जैंसे कि पुरुष सूक्त के मंत्र में बताया गया है-

तस्माद् विराडजायत विराजो अधि पूरुषः। ५।।


प्रश्न- पुरुष सूक्त १० ९० किस वेद का है?

उत्तर- ऋग्वेद का।


प्रश्न- विराट पुरुष इस जगत के ऊपर उठा हुआ है से क्या तात्पर्य है?

उत्तर- पुरुष सूक्त के चौथे मंत्र में बताया गया है कि वह विराट पुरुष अपने तीन पैरों से ऊपर उठा हुआ है। अर्थात् उसके तीन पैर अमरलोक में स्थित हैं। शेष एक पैर उसका इस जगत् में व्याप्त है। यथा-

त्रिपादूर्ध्व उदैत पुरुषः पादोsस्येहाभवत्पुनः।

ततो विष्वङ्व्यक्रामत् साशनानशने अभि।। 


प्रश्न- पुरुष सूक्त बोलना सीखे- कैंसे

उत्तर- सही ढंग से सस्वर शुद्ध रूप पुरुष सूक्त बोलने के लिए (पुरुष सूक्त पाठ) करने के लिए किसी गुरु का अनुसार करें अथवा यूट्यूब आदि पर शुद्ध पुरुष सूक्त का पाठ सुनें।


Rig Veda Purusha Suktam PDF कंहा मिलेगा?

यदि आप ऋग्वेदीय पुरुष सूक्त PDF डाउनलोड करना चाहते हैं तो उसका लिंक ऊपर दिया जा चुका है। धन्यवादः।

अन्य हिंदूधर्म ग्रंथ PDF लिंक

अन्य हिंदू धर्मग्रंथ संबंधित PDF का लिंक नीचे दिया गया है। सभी धर्मशास्त्र, पुराण, कर्मकाण्ड, संस्कृत व्याकरण आदि की PDF फाइल आप यंहा (इस वेबसाइट पर) आसानी से डाउनलोड कर पाएंगे। 

ललिता सहस्त्रनामस्तोत्रम् PDF  ♐

विष्णुसहस्त्रनाम संस्कृत ‌ PDF ♐

भगवद्गीता PDF (संस्कृत/हिंदी) ♐

भागवत पुराण PDF ♐

Devi Kavach Sanskrit PDF ♐



Post a Comment

0 Comments