[PDF] Aditya Hridaya Stotra PDF | Aditya Hriday Stotra In Hindi PDF | Aditya Hrudayam Sanskrit PDF

[PDF] Aditya Hridaya Stotra PDF | Aditya Hriday Stotra In Hindi PDF | Aditya Hrudayam Sanskrit PDF

जय हो भगवान सूर्यदेव की 🚩 आदित्याय नमः। 🙏

आंखो के देवता भगवान सूर्य का अति प्रिय स्तोत्र है- आदित्य हृदयस्तोत्र (Aditya Hridaya Stotra) कहा जाता है कि भगवान राम ने रावण पर विजय प्राप्त करने के लिए इसी आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ किया था। Aditya Hrudaym Stotram - आदित्य हृदय स्तोत्र के पाठ करने से समस्त मनोकामना पूर्ण होती हैं। 


आदित्य हृदय स्तोत्र के नियमित पाठ करने से बड़े आश्चर्यजनक लाभ मिलते हैं। शुद्ध Aditya Hridaya Stotra PDF/ आदित्य हृदयम् संस्कृत पीडीएफ (Aditya Hrudayam Sanskrit PDF) कंहा मिलेगा? आदित्य हृदय स्तोत्रम् PDF डाउनलोड कैंसे करें- आपकी इसी चिन्ता को ध्यान में रखते हुए- हम यंहा आदित्य हृदय स्तोत्र का शुद्ध संस्कृत PDF व आदित्य हृदय स्तोत्र (हिंदी PDF) प्रदान कर रहे हैं। 

इसे भी दबाएँ-  सिद्ध कुंजिका स्तोत्र PDF💚


इसी के साथ विभिन्न अन्य भाषाओं में आदित्य हृदय स्तोत्र का पीडीएफ भी आपको नीचे दिया जा रहा। जैंसे कि Aditya Hriday Stotra In Hindi PDF, Aditya Hrudayam Sanskrit PDF, Aditya Hridaya Stotra PDF आदि। जय बोलो सूर्य भगवान की 🚩 


Aditya Hridaya Stotra PDF के बारे में


Aditya Hridaya Stotra PDF 


पुस्तक /PDF का नाम-



आदित्य हृदय स्तोत्रम् (Aditya Hridaya Stotra)


पुस्तक प्रकार-

स्तोत्रग्रंथ

लेखक का नाम-

अज्ञात

फाइल प्रकार-

PDF



आदित्य हृदय स्तोत्र (Aditya Hridaya Stotra)

आदित्य हृदय स्तोत्रम् वाल्मीकि रामायण के युद्धकाण्ड से अवतरित है। जब भगवान राम रावण को मारने के लिए उद्यत होते हैं तो सबसे पहले गुरु की आज्ञा अनुसार भगवान राम भगवान सूर्य देव को प्रसन्न करने के लिए व विजयप्राप्ति के लिए आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करते हैं। 

कहा जाता है कि आदित्य हृदय स्रोत के पाठ करने से ही भगवान राम ने रावण पर विजय प्राप्त की। विभिन्न प्रकार की अभिलाषाओं, मनोकामनाओं को पूर्ण करने वाला आदित्य हृदय स्तोत्र (Aditya Hridaya Stotra) भगवान सूर्य का अति प्रिय स्तोत्र है।  

इसे भी दबाएँDurga Kavach PDF (दुर्गा कवच)


आप भी घर बैठे भगवान सूर्य देव के इस प्रिय आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ कर पाएं। इसके लिए हमने नीचे Aditya Hridaya Stotra PDF डाउनलोड लिंक दिया है। 

आप का हृदय से धन्यवाद। नीचे कमेंट में- जय सूर्यदेव 🚩 अवश्य लिखें। धन्यवाद। आदित्य हृदय स्तोत्र PDF डाउनलोड करने से पहले आदित्य हृदय स्तोत्र पर दर्शकों द्वारा पूछे गये जिज्ञासापरक प्रश्नों को भी देख लीजिए। 


आदित्य हृदय स्तोत्र के फायदे

आँखों के देवता हैं- भगवान् सूर्य। सूर्यदेव का ही दूसरा नाम है- आदित्य। आदित्य हृदय स्तोत्र के बहुत ही आश्चर्यजनक सुखद फायदे होते हैं। 

जो व्यक्ति नित्य आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करता है उसे धनलाभ, विजयलाभ, कीर्तिलाभ आदि महान फायदे होते हैं। आदित्य हृदय स्तोत्र से होने वाले कुछ विशेष फायदे निम्न हैं-

  • आंखों के रोग दूर होते हैं।
  • कार्य में सफलता व विजय मिलती है।
  • स्वास्थ में आश्चर्यजनक फायदे होते हैं।
  • समस्त आधि व्याधि का नाशक है- आदित्य हृदय स्तोत्र
  • सूर्य देव के समान अखण्ड तेज की प्राप्ति होती है।
  • सर्वत्र विजय लाभ मिलता है।


आदित्य हृदय स्तोत्र क्या है? Aditya Hridaya Stotra 🤔

आदित्य हृदय स्तोत्र भगवान सूर्य देव को समर्पित विशेष फलदायक स्तोत्र है। यह स्तोत्र वाल्मीकि रामायण के युद्धकाण्ड से लिया गया है। जब भगवान राम रावण के साथ युद्ध के लिए उद्यत होते हैं तो पहले गुरु आज्ञा से इसी आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करते हैं। 

इसे भी दबाएँ-  सृष्टि की रचना कैंसे हुई- पढें पुरुष सूक्त PDF💚


आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ दिन में कितनी बार करना चाहिए? 🤔

यथाशक्ति यथाभक्ति आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ कितनी भी बार कर सकते हैं। विशेष लाभ के लिए दिन में तीन बार अथवा 11 या 12 करें। शीघ्र लाभ के लिए 108 बार आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें तो अत्युत्तम होगा।


आदित्य हृदय स्तोत्र कैंसे करें। 🤔

प्रातः शौच स्नानादि से निवृत्त होकर भगवान सूर्य को - ॐ आदित्याय नमः इस मंत्र से नमस्कार करें। ॐ श्री आदित्याय नमः, सूर्याय नमः, दिनकराय नमः आदि मंत्रों से भगवान आदित्य (सूर्य) को अर्घ्य आदि देकर आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ पढें। एक बार शुबह, एक बार मध्याह्न व एक बार सांय- आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें।


Aditya Hridaya Stotra Chanting Video Purely

उपरोक्त Spiritual Activity इस यूट्यूब चैनल पर पूज्य Prem Prakash Dubey जी ने आदित्य हृदय स्तोत्रम् का बहुत ही पवित्र सुन्दर तेजोमय देदीप्यमान मधुर वाणी में पाठ प्रस्तुत किया है। पूज्य गुरु जी को धन्यवाद व प्रणाम एवं Spiritual Activity इस यूट्यूब चैनल को हृदय से धन्यवाद व प्रणाम। Credit To - Spiritual Activity (Prem Prakash Dubey)


आदित्य हृदय स्तोत्र के पाठ से क्या क्या लाभ है जल्दी बताइये?

आदित्य हृदय स्तोत्र का रोज पाठ करने से स्वास्थ्यलाभ, बलप्राप्ति, तेजप्राप्ति, ऐश्वर्य लाभ, पीड़ामुक्ति, सर्वत्र विजयप्राप्ति आदि अनेक लाभ मिलते हैं।

इसे भी दबाएँ-  दुर्गा सप्तशती संपूर्ण पाठ हिंदी में PDF💚


आदित्य हृदय स्तोत्र (हिंदी PDF)

यदि आप आदित्य हृदय स्तोत्र का हिंदी PDF डाउनलोड करना चाहते हैं तो उसका लिंक नीचे दिया गया है। आदित्य हृदय स्तोत्र (हिंदी PDF) Lyrics सामान्य जन भी आसानी से पढ सकता है। 


आदित्य हृदय स्तोत्र पाठ करने से ग्रहों पर होने वाले प्रभाव

नियमित रूप से आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करने से जन्म कुण्डली में नवग्रहों की शान्ति हो जाती है। सभी ग्रह शुभ फल देने लगते हैं। ग्रहों पर अच्छा प्रभाव पडने लगता है।


आदित्य मंत्र क्या है? Āditya Mantra

भगवान आदित्य का विशेष प्रभावी व अति सरल मंत्र है- इस मंत्र का रोज जाप करने से समस्त दारिद्र्यादिदोष शमन होता है।

इसे भी दबाएँ-  कामसूत्र पुस्तक PDF (Kamasutra Book PDF💚


Aditya Hridaya Stotra PDF Download

आदित्य हृदय स्तोत्र पीडीएफ अभी डाउनलोड करने के लिए नीचे डाउनलोड लिंक दिया गया है। यंहा हमने आदित्य हृदय स्तोत्र संस्कृत PDF तथा Aditya Hridaya Stotra PDF In Hindi & English Meaning के साथ आदित्य हृदय स्तोत्र का पीडीएफ लिंक दिया है। आदित्य हृदय स्तोत्र (हिंदी PDF) Lyrics आदि सभी फाॅर्मेट- नीचे देखें।


आप अपनी इस SanskritExam. Com वेबसाइट से असंख्य धार्मिक, ऐतिहासिक पीडीएफ बड़ी आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं। अभी आदित्य हृदय स्तोत्र पीडीएफ फ्री (Aditya Hridaya Stotra Free Download) करने के लिए नीचे लिंक को दबाएँ। 

Aditya Hridaya Stotra PDF ♐

Aditya Hrudayam Sanskrit PDF ♐

Aditya Aditya Hriday Stotra In Hindi PDF ♐




अन्य हिंदूधर्म ग्रंथ PDF लिंक

अन्य हिंदू धर्मग्रंथ संबंधित PDF का लिंक नीचे दिया गया है। सभी धर्मशास्त्र, पुराण, कर्मकाण्ड, संस्कृत व्याकरण आदि की PDF फाइल आप यंहा (इस वेबसाइट पर) आसानी से डाउनलोड कर पाएंगे। 

ललिता सहस्त्रनामस्तोत्रम् PDF  ♐

विष्णुसहस्त्रनाम संस्कृत ‌ PDF ♐

भगवद्गीता PDF (संस्कृत/हिंदी) ♐

भागवत पुराण PDF ♐

Devi Kavach Sanskrit PDF ♐


Post a Comment

0 Comments