बगलामुखी पूजा के फायदे | Baglamukhi Puja Ke Labh | Baglamukhi Mantra Ke Fayde

बगलामुखी मंत्र के फायदे, बगलामुखी मंत्र के लाभ, Baglamukhi Puja Benefits

क्या आपको पता है कि बगलामुखी पूजा के फायदे क्या-क्या होते हैं। बगलामुखी माता 10 महाविद्याओं में से एक मानी जाती है और यह अत्यंत चमत्कारी देवी है जो भक्त सच्ची श्रद्धा से मां बगलामुखी की पूजा करते हैं उनको चमत्कारी लाभ देखने को मिलते हैं। बगलामुखी मंत्र सबसे प्रभावी मंत्र माना जाता है। 

यह मंत्र विशेष रूप से नियम पूर्वक ही जपना चाहिए। इस मंत्र के जाप करते समय तथा बगलामुखी पूजा के दौरान हमें विभिन्न बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए। अन्यथा बगलामुखी पूजा में नुकसान भी हो सकते हैं। पिछले आर्टिकल में हमने बगलामुखी मंत्र के नुकसान के बारे में बताया था। 

यहां हम आपको बगलामुखी पूजा के फायदे बता रहे हैं। यदि आप सही तरीके से बगलामुखी पूजा करते हैं अथवा किसी पंडित से बगलामुखी का अनुष्ठान करवाते हैं तो आपको 7 दिनों के भीतर ही अद्भुत फायदे देखने को मिलेंगे। बगलामुखी पूजा के फायदे, Baglamukhi Puja Ke Labh


बगलामुखी का पाठ करने से क्या होता है?

बगलामुखी भगवती का अनुष्ठान करने से अर्थात बगलामुखी का पाठ करने से हर कठिन से कठिन कार्य सुलझ जाता है। बगलामुखी पाठ करने के विशेष नियम होते हैं। यदि आप इन सभी नियमों को ध्यान में रखते हुए बगलामुखी का पाठ करते हैं तो आप जिस किसी भी इच्छा को पूर्ण करवाना चाहते हैं। 

मां भगवती उसको मात्र 7 दिनों में ही पूरा कर देती है। बशर्ते आपको बगलामुखी का पाठ सही से करना है। आमतौर पर बगलामुखी का पाठ करने से क्या होता है, बगलामुखी पूजा के फायदे क्या है- यहां नीचे हम आपको विस्तार से बता रहे हैं। Baglamukhi Mantra Ke Fayde


बगलामुखी पूजा के फायदे / Baglamukhi Puja Ke Labh

बगलामुखी पूजा निश्चित रूप से सभी प्रकार की समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सबसे कारगर एवं चमत्कारी पूजा है जो पूजा जितनी ज्यादा प्रभावित होती है। उसके नियम भी कुछ विशेष होते हैं। बगलामुखी पूजा के फायदे बहुत सारे हैं। विशेष रूप से बगलामुखी पूजा के फायदे निम्नलिखित हैं।


1. शीघ्र मनोकामना पूर्ति

यदि आप सच्ची श्रद्धा से मां बगलामुखी की पूजा करते हैं अथवा किसी पंडित से करवाते हैं, मां बगलामुखी का जाप करवाते हैं तो इस बात में बिल्कुल भी संदेह नहीं है कि आपकी मनोकामना शीघ्र ही पूर्ण हो जाएगी। बगलामुखी पूजा का यह तत्काल मिलने वाला फल है। यह Baglamukhi Puja Ke Fayde में से पहला फायदा है। 


2. मुकदमे में जीत

यदि आप पर किसी दुश्मन ने किसी भी प्रकार का मुकदमा किया हो। आप किसी भी प्रकार की समस्या में उलझे हुए हों तो बगलामुखी पूजा करना सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। बगलामुखी पूजा ज्यादातर वही लोग करवाते हैं जो किसी मुकदमे में उलझे रहते हैं। यह Baglamukhi Mantra Ke Fayde में से विशेष है।

इन्हें भी देखें 👇👇


3. शत्रु हानि

यदि आपका कोई दुश्मन है जो आपको बार-बार परेशान कर रहा है तो सभी प्रकार की पूजा में एकमात्र बगलामुखी पूजा ही सर्वश्रेष्ठ मानी जाती है। बगलामुखी पूजा में जो मां भगवती जगदंबा बगलामुखी का मंत्र है, वह मूलतः इसी बात पर केंद्रित है कि दुश्मन की वाणी, जीभ इत्यादि को स्तंभित कर दिया जाए। अर्थात बगलामुखी का बीज मंत्र मूलत शत्रु हानि अथवा दुश्मन से छुटकारा पाना के लिए ही है।


4. पारिवारिक क्लेश की शांति

यदि आपके घर परिवार में बहुत ज्यादा क्लेश बना रहता है। घर में ज्यादा लड़ाई होती है तो आपको तत्काल मां बगलामुखी का अनुष्ठान करवाना चाहिए। आप चाहे तो खुद भी किसी गुरु से बगलामुखी का मंत्र लेकर उसका जाप कर सकते हैं और अंततः हवन करवाकर मां बगलामुखी की असीम कृपा का साक्षात अनुभव कर सकते हैं। 

मां बगलामुखी की कृपा यदि एक बार हो जाए तो इस बात में लेस मात्रा भी संदेह नहीं है कि आपके घर परिवार में सुख समृद्धि बनने लग जाएगी। पारिवारिक क्लेश अपने आप दूर होने लगेगा। परिवार के लोगों में परस्पर अच्छे संबंध बनने लगते हैं।


5. वैवाहिक समस्या का निदान

बगलामुखी पूजा का यह भी एक बहुत बड़ा फायदा है कि इससे विवाह में आने वाली अड़चनें दूर हो जाती हैं जिन लोगों का विवाह न हो रहा हो अथवा विवाह में देरी हो रही हो मनपसंद विवाह नहीं हो रहा हो या विवाह से संबंधित किसी भी प्रकार की अन्य कोई समस्या हो तो वह बगलामुखी पूजा कर सकते हैं। बगलामुखी मंत्र बहुत ही चमत्कारी है। आपको शीघ्र ही इसका असर दिखने लग जाएगा। 


6. धन प्राप्ति

धन प्राप्ति के लिए बगलामुखी मंत्र बहुत प्रभावी माना जाता है लेकिन इसमें कुछ विशेष बीज अक्षर लगाने पड़ते हैं। जिन लोगों को आर्थिक समस्या रहती है। 

आर्थिक तंगी के कारण परेशान रहते हैं। उनको बगलामुखी का अनुष्ठान करवाना चाहिए अथवा बगलामुखी मंत्र का जाप करना चाहिए। शीघ्र ही आर्थिक तंगी से छुटकारा दिलाने में बगलामुखी मंत्र अचूक उपाय है।


7. वाद विवाद से मुक्ति

जैसे कि हमने पहले ही बताया कि बगलामुखी पूजा से सभी प्रकार के मुकदमे में विजय प्राप्त होती है। यदि आप किसी भी प्रकार के वाद विवाद में फंसे हुए हैं तो बगलामुखी पूजा के द्वारा आप तुरंत ही इस समस्या से निदान का सकते हैं। बगलामुखी पूजा इसके लिए किसी वरदान से कम नहीं है।

इन्हें भी देखें- 👇

Click- घबराहट और डर को खत्म करने का मंत्र

Click- बगलामुखी मंत्र के नुकसान

Click- राहु को शान्त व खुश करने के उपाय

Click- ब्लड प्रेशर को कम करने का मंत्र


8. युद्ध में जीत

यदि आप किसी भी प्रकार की लड़ाई का सामना कर रहे हैं तो आपको बगलामुखी की पूजा जरूर करनी चाहिए। बगलामुखी की पूजा करने से युद्ध में जीत अवश्यम्भावी हो जाती है। यह बगलामुखी पूजा के फायदे में से एक विशेष अन्यतम लाभ है। 

जब महाभारत में अर्जुन कौरवों के साथ युद्ध कर रहा था तो भगवान श्री कृष्ण के निर्देश अनुसार अर्जुन ने भी मां बगलामुखी की पूजा एवं साधना संपन्न की थी। जिसके फल स्वरुप अर्जुन को विजय प्राप्त हुई। मां बगलामुखी सभी प्रकार के क्षेत्रों में विजय दिलवाती है। 


बगलामुखी पूजन करवाने के लिए आप हमसे सीधा सम्पर्क कर सकते हैं। ध्यान रहे, यह बहुत ही चमत्कारिक एवं तांत्रिक पूजा है। शीघ्र ही इसका असर दिखने लगता है। इसका टोटल खर्चा 21,000 रुपये आता है। WhatsApp Now


बगलामुखी की पूजा क्यों की जाती है?

10 महाविद्याओं में से बगलामुखी एक श्रेष्ठ महाविद्या मानी जाती है। आमतौर पर बगलामुखी पूजा दुश्मन से छुटकारा पाने के लिए की जाती है। जो लोग अपने दुश्मन से परेशान रहते हैं या किसी मुकदमे में उलझे रहते हैं। उनको बगलामुखी की पूजा अवश्य करवानी चाहिए। 

यदि आप अपने घर पर बगलामुखी का पूजन करवाना चाहते हैं अथवा खुद से करना चाहते हैं तो हमने पिछले लेख में बगलामुखी पूजन सामग्री लिस्ट तथा बगलामुखी पूजा विधि, बगलामुखी हवन विधि एवं बगलामुखी मंत्र प्रयोग के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की है। आप उसे अच्छे से पढ़ सकते हैं। बगलामुखी पूजा के फायदे,  Baglamukhi Mantra Ke Fayde भी बताए गये हैं।

यहां नीचे मां बगलामुखी पूजा से संबंधित कुछ विशेष सवालों का जवाब दिया गया है। इन्हें अवश्य पढ़ें। बगलामुखी पूजा के फायदे,  Baglamukhi Puja Ke Labh


बगलामुखी माता का दिन कौन सा है?

मां बगलामुखी का दिन वैशाख महीने की अष्टमी तिथि को माना जाता है। इसी दिन मां बगलामुखी का प्राकट्य हुआ था। हर महीने में दो बार अष्टमी तिथि आती है। 

यह दोनों दिन मां बगलामुखी के होते हैं। वार की दृष्टि से देखा जाए तो शुक्रवार मां बगलामुखी माता का दिन माना गया है। वहीं गुरुवार को भी बगलामुखी का दिन कहा जाता है। 


बगलामुखी माता का भोग क्या है?

मां बगलामुखी की पूजा में माता को पीले लड्डू अथवा पीली मिठाई का भोग लगाना चाहिए। इसके अतिरिक्त बगलामुखी पूजा में पीले रंग का विशेष ध्यान रखना चाहिए। सब कुछ पीला ही हो तो अति उत्तम माना जाता है।


क्या दुर्गा और बगलामुखी एक ही है?

दुर्गा और बगलामुखी तत्व रूप से एक ही है लेकिन बाह्य रूप से अलग-अलग प्रतीत होते हैं। मां दुर्गा का ही एक रूप बगलामुखी है। मां भवानी के अलग-अलग रूप अलग-अलग उद्देश्यों को पूर्ण करने के लिए अवतरित हुए हैं।

इन्हें भी देखें 👇👇


क्या पीरियड्स के दौरान बगलामुखी मंत्र का जाप कर सकते हैं?

जी नहीं, यदि आप मासिक धर्म में हैं तो आपको बगलामुखी मंत्र का जाप नहीं करना चाहिए। बगलामुखी मंत्र में पवित्रता एवं सात्विकता का का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है।


क्या मैं घर पर बगलामुखी की पूजा कर सकता हूं?

जी हां, आप घर पर मां बगलामुखी की पूजा कर सकते हैं। बगलामुखी हवन कर सकते हैं। बगलामुखी मंत्र का जाप कर सकते हैं लेकिन इस बात का विशेष ध्यान रखें कि बगलामुखी मंत्र किसी गुरु से जरूर ले लेना चाहिए। 

यदि अपने गुरु मुख से बगलामुखी मंत्र ले लिया हो तो यह शीघ्र ही अपना असर दिखाता है एवं किसी भी प्रकार का भय नहीं रहता है। 


बगलामुखी पूजा घर पर कैसे करें?

मां बगलामुखी की पूजा घर पर करने के लिए आपको किसी पंडित जी को बुलाना होगा। यदि आप हमसे मां बगलामुखी का पूजन करवाना चाहते हैं तो संपर्क सूत्र यहां दिए गए हैं। आप खुद भी बगलामुखी का पूजन घर पर कर सकते हैं लेकिन इसमें बहुत सारी सावधानियां बरतनी जरूरी है। 

बगलामुखी पूजा विधि हमने पिछले आर्टिकल में बताई है। आप उस लेख को पढ़ सकते हैं और बगलामुखी पूजा घर पर कैसे करें इसके बारे में विस्तार पूर्वक जान सकते हैं।

बगलामुखी पूजन करवाने के लिए आप हमसे सीधा सम्पर्क कर सकते हैं। ध्यान रहे, यह बहुत ही चमत्कारिक तांत्रिक पूजा है। शीघ्र ही इसका असर दिखने लगता है। इसका टोटल खर्चा 21,000 रुपये आता है। WhatsApp Now


Post a Comment

0 Comments

Youtube Channel Image
Earn Money घर बैठे पैसे कमाएं
Click Here