Raat Din Kaun Sa Samas Hai 🤔 | रात-दिन में कौन सा समास है 🤔 | Raat Din Mein Kaun Sa Samas Hai

Raat Din Kaun Sa Samas Hai | रात-दिन में कौन सा समास है 🤔 | Raat Din Mein Kaun Sa Samas Hai

चुपके-चुपके रात-दिन, रात को आउंगा मैं, तुझे ले जाउंगा मैं ❤- ऐंसे बहुत से गानें आपने भी जरूर सुने होंगे जिनमें कि रात-दिन शब्द का प्रयोग हुआ हो लेकिन क्या आपको पता है कि रात-दिन शब्द में कौन सा समास है? Raat Din Kaun Sa Samas Hai- यह आपको जरूर पता होना चाहिए। 

इसे भी दबाएँ- समास का रोचक परिचय- अब समास व समास के भेदों को कभी नहीं भूलोगे 💚


न केवल पता होना चाहिए बल्कि रात-दिन में कौन सा समास है?कैंसे वह समास है? उसकी पूरी प्रक्रिया जाननी आवश्यक है। तो चलिए, आज हम आपको यही बताने वाले हैं कि रात-दिन में कौन सा समास है? पूरा परिचय।

इसे भी दबाएँ- Sandhi Viched In Hindi (संधि विच्छेद को समझने का सबसे प्यारा तरीका 💓💚


रात-दिन शब्द का परिचय ( Rat-Din Meaning In Hindi)

रात-दिन शब्द का संस्कृत में रात्रिदिनम्, नक्तंदिवम्, अहोरात्रम्, अहर्निशम् आदि भी कहा जाता है। रात-दिन का अर्थ तो स्पष्ट ही है। रात का अर्थात- वही रात जब हम खर्राटे लेते हैं और दिन का मतलब वही दिन जब ग्यारह बजे तक सोते रहते हैं। 

रात-दिन को विपरीत तरीके से भी कहा जाता है- दिन-रात। रात-दिन कहो या दिन-रात= दोनों में एक ही बात। चलिए, अब रात-दिन में कौन सा समास है? सही ढंग से इसको समझिए।

इसे भी दबाएँ-  संस्कृत कारक व विभक्ति पहचानने का नया तरीका - Vibhakti In Sanskrit 💓💚


रात-दिन में कौन सा समास है? Raat Din Kaun Sa Samas Hai

रात और दिन= रात-दिन। रात दिन शब्द में द्वंद्व समास है। द्वंद्व समास की पहचान है कि जंहा दोनो पद प्रधान हों तथा - "और"शब्द का प्रयोग किया गया हो। रात-दिन में भी " और" शब्द का प्रयोग है साथ ही दोनों पद प्रधान है। रात भी प्रधान है व दिन भी। 

इस प्रकार रात-दिन में द्वंद्व समास है। यह स्पष्ट हुआ। संस्कृत में "और" शब्द के लिए "च" का प्रयोग किया जाता है। जैंसे कि- रात्रिश्च दिनं च= रात्रिदिनम्।

इसे भी दबाएँ- Counting In Sanskrit (संस्कृत में गिनती सीखें 💚


रात-दिन का समास विग्रह (Raat Din Ka Samas Vigrah)

जैंसे कि हमने ऊपर बताया कि रात-दिन में द्वंद समास है। हिंदी में रात-दिन का समास विग्रह = "रात और दिन" होता है। दोनों को मिलाने से= रातदिन एक शब्द बन जाता है। समास का यही अर्थ होता है कि संक्षेप कर देना। एक शब्द बन जाना। 

इसे भी दबाएँ- Hindi To Sanskrit Translation( (हिंदी से संस्कृत अनुवाद सीखें) 💚


रात-दिन में समास विग्रह करने पर "और" शब्द भी है लेकिन जब समास हो जाता है तो और शब्द छिप जाता है। हिंदी में प्रायः द्वंद्व समास में "-" (डैस) चिह्न का प्रयोग भी किया जाता है। जैंसे कि रात-दिन (- डैस चिह्न का प्रयोग) , माता-पिता, सर्दी-गर्मी आदि।

आपको ये भी जरूर पसंद आ सकते हैं- क्लिक करके तो देखो, जरा 👇👇


घर बैठे संस्कृत बोलना सीखें- निःशुल्क♐



CLICK HERE

 


चक्रपाणि में कौन सा समास है 🤔 ❓क्लिक करें



CLICK HERE

 


संज्ञा किसे कहते हैं? संज्ञा के भेद (फटाफट दबाओ और जानो) ♐


CLICK HERE



समास किसे कहते हैं- समास के भेद ♐


CLICK HERE

 




Post a Comment

0 Comments